Short Speech On Independence Day In Hindi – 15 August Speech

Short Speech On Independence Day In Hindi – 15 August Speech: Best and Popular Speech On Independence Day In Hindi Language (स्वतंत्रता दिवस पर भाषण) | अगर आप अपने स्कूल एवं कॉलेज में Independence Day Speech In Hindi बोलना चाहते हैं तो इस आर्टिकल में आपको Short Speech On Independence Day In Hindi मिलेगी जिसको आप अपने भाषण में इस्तेमाल कर सकते हैं|

short speech on independence day in hindi

Short Speech On Independence Day In Hindi

15 August Speech In Hindi 2018 को पढ़ने के बाद हमको कमेंट करके जरूर बताएं कि आपको हमारा यह लेख कैसा लगा, और अगर आपको Independence Day Speech In Hindi लेख पसंद आया है| तो इसे जितना हो सके उतना अपने दोस्तों के साथ शेयर करें|

अगर आप किसी विद्यालय या कॉलेज के अध्यापक या विद्यार्थी हैं, तो नीचे दिए गए लेख को जरूर पढ़ें जो आपको 15 अगस्त पर भाषण देने में सहायक होंगे|

Short Speech On Independence Day In Hindi For School Student

आदरणीय प्रधानाचार्यजी, सभी अध्यापकगण और मेरे प्यारे मित्रों| आज इस शुभ अवसर पर हम सभी यहां 15 अगस्त दिवस मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं| आज ही के दिन 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजों की गुलामी से हमारा देश पूर्ण रूप से आजाद हुआ था| इस शुभ अवसर पर आप सभी को 15 अगस्त पर भाषण ( 15 August Speech) देना चाहता / चाहती हूं|

आज सभी भारत नागरिकों के लिए एक महत्वपूर्ण दिवस है| कई वर्षों तक ब्रिटिश शासन का भारत गुलाम रह चुका है| भारत के नागरिकों ने ब्रिटिश शासन की गुलामी की है| 1947 से पहले, लोगों पर बहुत पाबंदियां थी| लेकिन 1947 के बाद हमारा देश हमेशा के लिए ब्रिटिश शासन की गुलामी से आजाद हो चुका था| हमारे भारत के कई नेताओं, सेनानियों ने ब्रिटिश शासन के खिलाफ आजादी पाने के लिए कई वर्षों तक कड़ा संघर्ष किया|

भारत के कुछ महान स्वतंत्रता सेनानी है, जैसे नेताजी सुभाष चंद्र बोस, महात्मा गांधी जी, जवाहरलाल नेहरू, लाला लाजपत राय, चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, यह सभी देश भक्त हैं, जिन्होंने अपने जीवन को देश की आजादी के लिए न्योछावर कर दिया है|

इन महान नेताओं और सेनानियों की वजह से ही हमारा देश आज आजाद हो पाया है| जिसकी खुशी हम सभी लोगों को है, आजादी के बाद हमारा देश विकास की राह पर चल रहा है| हमारे देश की आजादी में महात्मा गांधी जी का बहुत महत्वपूर्ण बलिदान था| जिन्होंने अहिंसा और सत्याग्रह जैसे आजादी के असरदार तरीकों को अपनाया|
आजादी के बाद सबसे महत्वपूर्ण बात यही है| कि हमें हमारी आजादी के अर्थ को समझना चाहिए| हमें देश में से भ्रष्टाचार, अपराध को दूर करके देश के विकास करना चाहिए| हमें गरीबी, अशिक्षा, बेरोजगारी, असमानता आदि जैसी चीजों को समझना होगा और उनका हल निकालना होगा|
जय हिंद! जय भारत!🙂

Best Speech On Independence Day In Hindi

सन 18 57 के पहले स्वतंत्रता संग्राम के महायज्ञ का प्रारंभ झांसी की रानी लक्ष्मीबाई और मंगल पांडे ने किया| उन्होंने अपने अनमोल प्राणों का बलिदान इस भारत माता के लिए न्योछावर कर दिया|

आजादी का संघर्ष तब तक हुआ जब बाल गंगा तिलक ने कहा कि “स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है”

चंद्रशेखर आजाद में अपना धर्म ही आजादी को बताया, भगत सिंह ने जो देश भक्ति पैदा की वह वाकई में अद्भुत थी| ईट का जवाब पत्थर से देने की क्रांतिकारियों और सेनानियों की ख्वाहिश का सम्मान यह पूरा भारत देश हमेशा के लिए करेगा|

इस भारत देश को गर्व है कि जिस भूमि पर भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, महात्मा गांधी, मंगल पांडे, झांसी की रानी लक्ष्मीबाई और चंद्रशेखर आजाद ने जन्म लिया| जिन्होंने भारत को आजाद कराने के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए|

काफी लंबे संघर्ष के बाद 15 अगस्त 1947 को भारत को आजादी देखने को मिली| जिस दिन को याद करने के लिए पूरा भारत देश 15 अगस्त के दिन स्वतंत्र दिवस को मनाता है|

इतने संघर्ष के बाद भारत को महान क्रांतिकारियों ने आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है| इस आजादी को ऐसे बर्बाद करना बिल्कुल भी सही नहीं है|

हमें देश से भ्रष्टाचार, गरीबी, अज्ञानता, रिश्वतखोरी और नशाखोरी से मुक्त करना है|

भारत हमारी मातृभूमि है और हम इस मातृभूमि के नागरिक जिसके लिए हम कुछ भी कर सकते हैं| यह हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम इस देश का विकास करें और इस देश को सभी बुराइयों से दूर रखें|

जय हिंद! जय भारत!🙂

15 August Speech In Hindi For School

आजादी का क्या मतलब है?

आजादी शब्द एक ऐसा मूल्यवान शब्द है| जिसमें पूरा भारत देश समाया हुआ है, आजादी एक स्वाभाविक भाव है कि आज़ादी की चाहत मनुष्य को ही नहीं बल्कि एक जीव प्राणी को भी है| कई वर्षों तक भारत देश अंग्रेजों की गुलामी करता रहा है उनके कड़े अत्याचारों का सामना भी किया| खुली फिजा में सांस लेने को बेचैन आजादी का पहला बिगुल 1857 में बजा| किंतु कई कारणों से हमें इस गुलामी से मुक्त नहीं हो पाए| वास्तव में आजादी का संघर्ष तब तक हुआ जब बाल गंगाधर तिलक ने कहा कि “स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है” या यूं कहें कि आजादी पर हर प्राणी का अधिकार है|

कई भारत के सेनानियों और देशभक्तों की कोशिश और बलिदान से भारत की आजादी मिली है| जैसा कि बाल गंगाधर तिलक जी ने कहा है कि “स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है” उसी से अर्थ निकलता है कि किसी बीज को धरती में कितना ही दबा दो वो सूर्य की किरण तथा हवा की चाहत रखते हुए धरती से बाहर आ ही जाता है| इसलिए ही भारत कितनी ही गुलामी किया हो, परंतु भारत के महान क्रांतिकारियों और सेनानियों ने इस भारत को स्वतंत्रता दिलाई है| तभी तो कहा गया है कि

पराधीन सपनेहुँ सुख नाहीं|

Speech On Independence Day In Hindi Pdf

अगर आप 15 August Speech In Hindi PDF फाइल प्राप्त करना चाहते हैं| तो नीचे दिए गए लिंक से आप 15 August Speech In Hindi PDF एवं Speech On Independence Day In Hindi Pdf फाइल ले सकते हैं|

इन विशेष लेख को भी जरूर पढ़ें🙂

अगर आपको हमारा यह Short Speech On Independence Day In Hindi आर्टिकल पसंद आया है| तो अपने दोस्तों, रिश्तेदारों के साथ जरुर शेयर करें और नीचे कमेंट में जरूर बताएं कि आपको यह आर्टिकल कैसा लगा|

स्वतंत्रा दिवस की ढेरों शुभकामनाएं|

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *