Independence Day Speech In Hindi For Student – 15th August Speech

Independence Day Speech In Hindi For Student – 15th August Speech : Independence Day Speech In Hindi For Student अगर आप स्कूल स्टूडेंट एवं कॉलेज के विद्यार्थी हैं, और Independence Day Speech बोलना चाहते हैं, तो मैं इस आर्टिकल में आपको Independence Day Speech In Hindi For Student शेयर कर रहा हूँ| जिसका इस्तेमाल करके आप अपने कॉलेज या विद्यालय में स्वतंत्रता दिवस पर भाषण बोल सकते हैं|

यदि आप Independence Day Speech In Hindi को पढ़ने के बाद हमको कमेंट करके जरूर बताएं| कि आपको 15 अगस्त पर भाषण कैसा लगा और अगर आपको Independence Day Speech पसंद आई है, तो इन स्पीच को आप विद्यालय में भाषण दे सकते हैं|

independence day speech in hindi for student

Independence Day Speech In Hindi For Student – 15th August Speech

अगर आप किसी विद्यालय या कॉलेज के अध्यापक या अध्यापिका है, तो आपको स्वतंत्रता दिवस पर कई भाषण मिलेंगे उन भाषण को पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक जरूर करें|

तो चलिए दोस्तों ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए Independence Day Speech In Hindi For Student के लेख को प्रारंभ करते हैं|

Independence Day Speech In Hindi For Student – 15th August Speech

इस लेख में आपको स्कूल विद्यार्थी और कॉलेज विद्यार्थी के लिए विभिन्न प्रकार के 15 August स्वतंत्रता दिवस पर आर्टिकल देखने को मिलेंगे तो इस लेख को प्रारंभ कहते हैं|

Short Speech On Independence Day For Students In Hindi

15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस पर भाषण : आदरणीय प्रधानाचार्यजी सभी अध्यापक और अध्यापिका एवं मेरे प्यारे मित्रों आप सभी को सुबह का नमस्कार| हम सब यहां स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए एकत्रित हुए हैं| आज ही के दिन 15 अगस्त 1947 को भारत देश ब्रिटिश शासन की गुलामी से आजाद हुआ था| जिस दिन को याद करने के लिए स्वतंत्र दिवस मनाया जाता है|

आजादी क्या है?

आजादी कहें या स्वतंत्रता यह एक ऐसा मूल्यवान शब्द है, जिसमें पूरा भारत देश समाया हुआ है| आजादी एक स्वाभाविक भाव है कि आजादी की चाहत मनुष्य को ही नहीं बल्कि इस धरती पर रहने वाले हर प्राणी को है| कई वर्षों तक भारत देश अंग्रेजों की गुलामी करता रहा है, उनके अत्याचारों का सामना किया है| खुली फिजा में सांस लेने को बेचैन भारत में आजादी का पहला बिगुल 1857 में बजा| किंतु कई कारणों से हम इस गुलामी से मुक्त नहीं हो पाए| वास्तव में आजादी का संघर्ष तब तक हुआ जब बाल गंगाधर तिलक ने कहा कि “स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है” या फिर यूं कहें कि “आजादी पर हर प्राणी का अधिकार है“|

कई भारत के सेनानियों और देशभक्तों की कोशिश और बलिदान से भारत की आजादी मिली है| जैसा कि बाल गंगाधर तिलक जी ने कहा है कि “स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है” उसी से अर्थ निकलता है कि किसी बीज को धरती में कितना ही दबा दो वो सूर्य की किरण तथा हवा की चाहत रखते हुए धरती से बाहर आ ही जाता है| इसलिए ही भारत कितनी ही गुलामी किया हो, परंतु भारत के महान क्रांतिकारियों और सेनानियों ने इस भारत को स्वतंत्रता दिलाई है| तभी तो कहा गया है कि

पराधीन सपनेहुँ सुख नाहीं|

Best Popular Independence Day Speech In Hindi For Students

सन् 1857 के पहले स्वतंत्रता संग्राम के महायज्ञ का प्रारंभ झांसी की रानी लक्ष्मी बाई और मंगल पांडे ने किया| अपने अनमोल प्राणों का बलिदान इस भारत माता के लिए न्योछावर कर दिया| देखते ही देखते इस महासंग्राम में पूरे भारत देश के लोग शामिल हुए|

आजादी का संघर्ष तब तक हुआ जब बाल गंगाधर तिलक ने कहा कि “स्वतंत्रता हमारा जन्मसिद्ध अधिकार है” या फिर यूं कहें कि “आजादी पर हर प्राणी का अधिकार है“|

चंद्रशेखर आजाद ने अपना धर्म ही आजादी को बताया, भगत सिंह ने जो देश भक्ति की लो पैदा की, वह वाकई में ही अद्भुत थी| ईट का जवाब पत्थर से देने की क्रांतिकारियों और सेनानियों की ख्वाहिश का सम्मान यह पूरा भारत देश हमेशा के लिए करेगा|

इस भारत देश को गर्व है| कि जिस भूमि पर भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, महात्मा गांधी, मंगल पांडे, झांसी की रानी लक्ष्मीबाई और चंद्रशेखर आजाद ने जन्म लिया, जिन्होंने भारत को आजाद कराने के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए|

सुभाष चंद्र बोस भारत के एक आम आदमी ही थे| जिन्होंने उच्च शिक्षा प्राप्त और अच्छे भविष्य को त्याग कर देश की आजादी के लिए कई प्रयास किए|

महात्मा गांधी भी भारत के एक आम भारतीय थे, जिन्होंने अहिंसा और सत्याग्रह जैसे आजादी के असरदार तरीकों के बारे में बताया| अहिंसा और शांति के साथ स्वतंत्र भारत के सपनों को गांधी जी ने देखा था| भारत की आजादी में महात्मा गांधी जी का भी बहुत बड़ा योगदान है| भारत ने गांधी जी को राष्ट्रपिता के रूप में स्वीकार किया|

“अहिंसा” और “असहयोग” लेकर गुलामी की जंजीरों को तोड़ने के लिए महात्मा गांधी, सरदार वल्लभ भाई पटेल, बाल गंगाधर तिलक जैसे महापुरुषों ने कमर कस ली थी|

काफी लंबे संघर्ष के बाद 15 अगस्त, 1947 को भारत को आजादी देखने को मिली| जिस दिन को याद करने के लिए पूरा भारत देश 15 अगस्त के दिन स्वतंत्रता दिवस को मनाता है|

इतने संघर्ष के बाद भारत के महान क्रांतिकारियों ने आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है| उस आजादी को ऐसे बर्बाद करना बिल्कुल भी सही नहीं है|

हमें देश को भ्रष्टाचार गरीबी, अज्ञानता, रिश्वतखोरी और नशाखोरी से मुक्त कराना चाहिए|

भारत हमारी मातृभूमि है, हम इस मातृभूमि के नागरिक हैं| हमें हमेशा इसको बुरे लोगों से बचाने के लिए तैयार रहना चाहिए| यह हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हमें इस देश का विकास करना चाहिए और इस देश को सभी बुराइयों से दूर रखना चाहिए|

जय हिंद, जय भारत

Speech On Independence Day In Hindi Pdf

अगर आप 15 August Speech In Hindi Pdf फाइल प्राप्त करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके Speech On Independence Day In Hindi Pdf फाइल प्राप्त कर सकते हैं|

इन आर्टिकल को भी जरूर पढ़ें

मेरे प्यारे दोस्तों, Independence Day Speech In Hindi For Student का यह आर्टिकल यही खत्म होता है| और अगर आपको 15 August Speech In Hindi का लेख पसंद आया है तो आप इस लेख को अपने विद्यालय या कॉलेज में भाषण के रूप में बोल सकते हैं|

अगर आप स्वतंत्र दिवस परअन्य आर्टिकल देखना चाहते हैं तो Short Speech On Independence Day आर्टिकल जरूर पढ़ें|

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल Best Independence Day Speech In Hindi For Student पसंद आया है तो अपने दोस्तों, रिश्तेदारों के साथ जरुर शेयर करें और नीचे कमेंट में जरूर बताएं कि आपको यह आर्टिकल कैसा लगा|

Read More Article on Independence Day

स्वतंत्रा दिवस की ढेरों शुभकामनाएं|

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *